मंगलवार 12 ज़ुलहिज्जा 1445 - 18 जून 2024
हिन्दी

दाँतों में फिलिंग कराने और दवा लगाने से रोज़े पर कोई असर नहीं पड़ता

प्रश्न

मैं अपने दाँतों पर ब्रेस लगवाता हूँ और मुझे हर तीन हफ्ते में डॉक्टर के पास जाना पड़ता है और वह मेरे दाँतों का रखरखाव करता है और वह मेरे मुँह में कुछ चीजें और पदार्थ डालता है। क्या इससे रोज़ा बातिल (अमान्य) हो जाता हैॽ

उत्तर का पाठ

हर प्रकार की प्रशंसा और गुणगान केवल अल्लाह तआला के लिए योग्य है।.

इससे रोज़ा अमान्य नहीं होगा, जब तक कि आप जानबूझकर इनमें से कोई भी पदार्थ निगल न लें। यदि इसे रात में करना संभव है, तो यह रोज़ा के लिए एहतियात के तौर पर बेहतर है।

शैख इब्ने बाज़ रहिमहुल्लाह (15/285) से पूछा गया : यदि किसी व्यक्ति के दाँत में दर्द हो और वह डॉक्टर के पास जाए, और वह उसके दाँत की सफाई या भराई करे या उसका कोई दाँत उखाड़ दे, तो क्या ऐसा करना उसके रोज़े को प्रभावित कर देगा? यदि डॉक्टर उसके दाँत को सुन्न करने के लिए इंजेक्शन देता है, तो क्या इससे उसके रोज़े पर कोई असर पड़ेगा?

उन्होंने जवाब दिया :

प्रश्न में जो कुछ उल्लेख किया गया है, उसका रोज़े की प्रामाणिकता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है, बल्कि उसे माफ कर दिया जाता है। लेकिन उसे दवा या खून में से कुछ भी निगलने से सावधान रहना चाहिए। इसी तरह उल्लिखित इंजेक्शन का रोज़े की वैधता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। क्योंकि यह खाने-पीने के समान अर्थ में नहीं है, और मूल सिद्धांत रोज़े का सही और सुरक्षित होना है।” उद्धरण समाप्त हुआ।

स्रोत: साइट इस्लाम प्रश्न और उत्तर